प्रधानमंत्री  श्रम  योगी  मानधन  योजना | Pradhan Mantri Shram Yogi Mandhan Yojana

प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी के द्वारा बहुत ऐसे योजनाओं को शुरू किया गया जिसमें से एक ऐसी योजना है जो आपके अपनी बुढ़ापे में काम आयेगी यह योजना 60 सालों के बाद आपको पैसे के कमी को पुरा करेंगे। प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के तहत रूपया 15000 से कम की मासिक आय वाले 18 से 40 साल आयु के श्रमिक अपने आयु के अनुपात में 55 से 200 का अंशदान कर रहा हो उसे 60 सालों की उम्र के बाद कम से कम रूपया 3000 प्रति माह पेंशन ले सकेंगे।

इसे भी पढ़े : Pradhan Mantri Awas Yojana | प्रधानमंत्री आवास योजना

पहले किस्त नगद जमा करानी होगी जबकि बाकी किस्त बैंक के खाते में अपने आप ले ली जाएगी मजदूर स्वयं को इस योजना के अलग कर अपने पैसे ब्याज समेत वापस ले सकता है प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में मजदूरों के अंशदान के बराबर सरकार भी अंशदान करेगी प्रधानमंत्री मोदी ने इस योजना को देश के लगभग 42 करोड़ असंगठित मजदूरों के पसीने से भारत माता माथे पर तिलक लगा दिया है। प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि आप कितना कमाते हैं इसका सर्टिफिकेट देने की जरूरत नहीं है आपकी ईमानदारी ही पूरी तरह से सर्टिफिकेट है।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के तहत 60 वर्ष की आयु के बाद रूपया 3000 की मासिक पेंशन मिलेगा।
प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के तहत रूपया 3000 की मासिक पेंशन से जुड़ने वाले कामगारों को उनके अंशदान पर 60 वर्ष की आयु के बाद रूपया 3000 मासिक पेंशन दी जाएगी। यह योजना के चलते सरकार ने पेंशन का लाभ उठाने वाले लोगों के लिए कुछ शर्तें रखी है यदि कोई लाभार्थी 18 साल की उम्र में इस स्कीम में हिस्सा लेता है तो उसे 55 रूपया प्रीमियम के तौर पर देना होगा 29 साल की उम्र में योजना में हिस्सा लेनेे पर 100 रूपया मासिक प्रीमियम देना होगा 40 साल की उम्र में जुड़ने वाले को 200 रूपया का वार्षिक अंशदान करना होगा।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया
प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना की प्रक्रिया 15 फरवरी 2020 से चालू की गई है इस योजना को अंतिम रूप देने की जिम्मेदारी भारतीय जीवन बीमा निगम को दी गई है। योजना के लिए रजिस्ट्रेशन करने के लिए एलआईसी के बड़े नेटवर्क का उपयोग किया गया। इस योजना में सभी क्षेत्र के 18 वर्ष से लेकर 40 वर्ष की आयु के कामगारों को योजना का लाभ दिया जायेगा।

ऑनलाइन रजिस्टर कैसे करें

  •  प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में पंजीकरण के लिए नजदीकी सीएससी के किसी भी केंद्र पर जाकर आप अपना आवेदन दे सकते हैं।
    या फिर प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना सरकारी वेवसाईट पर जाकर आवेदन कर सकते हैं।
  •  इसके बाद, आधार कार्ड और बचत खाता या जन धन खात साथ देना होगा।
  • प्रूफ के रूप में पासबुक, चेकबुक या बैंक स्टेटमेंट दे सकते हैं।
  • कोई एक व्यक्ति को नॉमिनी में नाम दे सकते हैं।
  • विवरण कंप्यूटर में पंजीकृत हो जाने पर, प्रिमियम की जानकारी मोबाईल पर हो जायेगी।
  • उसके बाद नकद के रूप में आपको प्रारंभिक योगदान देना होगा।
  • इसके बाद, आपका खाता खुल जाएगा और आपको श्रम योगी कार्ड मिल जाएगा।

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना के लिए दस्तावेज

  • आधार कार्ड
  • पहचान पत्र
  • बैंक खाता पासबुक
  • पत्र व्यवहार का पता
  • मोबाइल नंबर
  • पासपोर्ट साइज फोटो

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना आयु चार्ट
प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में अगर आप पंजीकृत होते हैं तो आपको कितना पैसा देना होगा आइए समझते हैं।

प्रवेश आयु अधिकतम आयु सदस्य के द्वारा किया गया मासिक योगदान केंद्र सरकार के द्वारा किया गया मासिक योगदान कुल मासिक योगदान
18 60 55 55 110
19 60 58 58 116
20 60 61 61 122
21 60 64 64 128
22 60 68 68 136
23 60 72 72 144
24 60 76 76 152
25 60 80 80 160
26 60 85 85 170
27 60 90 90 180
28 60 95 95 190
29 60 100 100 200
30 60 105 105 210
31 60 110 110 220
32 60 120 120 240
33 60 130 130 260
34 60 140 140 280
35 60 150 150 300
36 60 160 160 320
37 60 170 170 340
38 60 180 180 360
39 60 190 190 380
40 60 200 200 400

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना में कौन लाभार्थी हो सकते हैं

  • भूमिहीन खेतिहर मजदूर
  •  छोटे और सीमांत किसान
  •  पशुपालक
  •  मछुआरे
  •  बुनकर 
  •  सब्जी तथा फल विक्रेता
  •  सफाई कर्मी
  •  ईट भट्टा और पत्थर खदानों में लेबलिंग और पैकिंग करने वाले
  •  निर्माण और आधारभूत संरचनाओं में कार्य करने वाले
  •  चमड़े के कारीगर
  •  घरेलू कामगार
  •  प्रवासी मजदूर आदि

इसे भी पढ़े : प्रधानमंत्री जन औषधि योजना क्‍या है | What is Pradhan Mantri Jan Aushadhi Yojana

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना का लाभ कौन नहीं उठा सकता?

  • राष्ट्रीय पेंशन योजना के सदस्य
  • संगठित क्षेत्र में काम करने वाले व्यक्ति
  •  राज्य कर्मचारी बीमा निगम के सदस्य
  • कर्मचारी भविष्य निधि के सदस्य
  • आयकर का भुगतान करने वाले लोग

प्रधानमंत्री श्रम योगी मानधन योजना कौन पात्रता होंगें।

  • आयु 18 वर्ष से 40 वर्ष तक होनी चाहिए
  • असंगठित क्षेत्रों के मजदूर होने चाहिए।
  • श्रमिकों की मासिक आय 15000 रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए।
  • आयकर दाता या कर दाता नहीं होना चाहिए।
  • ईपीएफओ, एनपीएस और ईएसआईसी के तहत नहीं आना चाहिए।
  • ग्राहक के पास मोबाइल फोन, आधार कार्ड होना अनिवार्य है।
  • बचत बैंक खाता भी योजना के लिए अनिवार्य है।

2 thoughts on “प्रधानमंत्री  श्रम  योगी  मानधन  योजना | Pradhan Mantri Shram Yogi Mandhan Yojana”

  1. Pingback: प्रधानमंत्री जन औषधि योजना क्‍या है | What is Pradhan Mantri Jan Aushadhi Yojana - Hamar Hindi

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
Scroll to Top