सुन्दरता कैसे रखें बरकरार | How to Maintain Beauty

सौन्दर्य जिसे हर सदी में अनेक बार अनगिनत कवियों, शायरों, लेखकों ने अपनी कलम से नवाजा है वह सौन्दर्य आज भी हर पुरुष के लिए कौतुक का विषय है। नारी के अंग-प्रत्यंग के छलकते सौन्दर्य को कवियों ने खूब रस लेकर कलमबद्ध किया है। फिर वे रस चाहे आम्रपाली रही हो या नूरजहाँ, क्लिओपेट्रा हो या प्रिंसेस डायना इन बातों में कोई शक नहीं कि इनकी खूबसूरती के सभी कायल थे। तो अब हम जानेंगें सौन्दर्य और खूबसूरती को बकरार रखने का राज एवं टिप्स

एक्युप्रेशर
एक्युप्रेशर भी एक ऐसी सफल चिकित्सा पद्धति है जिसके द्वारा व्यक्ति के सौन्दर्यीकरण में निखार लाया जा सकता है लेकिन अभी तक लोग इससे अनभिज्ञ हैं।
प्रत्येक व्यक्ति अगर सिर्फ 10 मिनट ‘एनर्जीप्लेट’ पर चले तो सौन्दर्यीकरण में बहुत लाभ मिलता है। साथ-ही-साथ यह और भी बीमारियों को दूर भगाता है। इसके साथ ‘फेस मसाइजर’ अगर चेहरे पर हल्के ढ़ग से पिम्पल्स आदि को दूर किया जा सकता है।
साथ-ही-साथ यह सरदर्द तथा माईग्रेन इत्यादि में भी लाभदायक होता है। अगर व्यक्ति हरे रंग प्रकाश का उपयोग फेस पर करते हैं तो उससे भी लाभ मिलता है। प्रकृति की गोद में छुपी है हमारी सौन्दर्यता का राज जिसे हम प्राप्त एवं इस्तेमाल कर सकते है। नेचुरल हर्बल आयुर्वेद के रुप में।

मुलतानी मिट्टी का कमाल

मुलतानी मिट्टी के नाम से सभी परिचित होते हैं परन्तु इसमें क्या क्या तासीर छिपी हैं इससे शायद हर कोई वाकिफ नहीं है। यह गर्मियों में आपके कोमल सौन्दर्य की रक्षा करती है।

  • यदि गर्मियों में तैलीय त्वचा की समस्या है तो आप थोड़ी-सी मुलतानी मिट्टी, चंदन, चूरा, गुलाब जल, आधी नींबू, शहद, आधी चम्मच चाय लें। मिट्टी को रात में अच्छी तरह महीन कुट कर किसी बर्तन में भींगो दें। सुबह उठकर उसका पेस्ट बना लें एवं उसमें थोड़ा-सा चंदन, चूरा, नींबू, शहद मिलाकर अच्छी तरह फेंट लें उसके बाद उसमें (आँखों का नीचला हिस्सा एवं होठों को बचाकर) चेहरे पर लगा लें। जब अच्छी तरह सूख जाए तो चेहरा ठंडे पानी से धो लेंं। ध्यान रहे जब मिट्टी सूखने लगे तो न बात करें न हँसें। इसे चेहरे के साथ-साथ हाथों पैरों में भी लगा सकते हैं।
  • गर्मियों में जब तलवां में आग सी जलने लगे, तब मुलतानी मिट्टी का लेप पैरों के तलवों पर करें। इससे ठंडक मिलेगी और वह आपके पैरों की सारी गर्मी खींच लेगी।
  • बालों का मेकअप के लिए आप हमेशा अच्छी क्वालिटी का प्रोडक्ट इस्तेमाल करें।
  • कभी भी बालों को ब्लो ड्राई करने से पहले मेकअप न करें। ड्रायर की छिट मेकअप को खराब कर सकती है।
  • रिसर्च से पता चलता है कि पीठ के बल सो जाने से झुरिंयां नहीं पड़ती हैं। आसान सा नुख्सा जरुर आजमाएँ।
  • उबटन द्वारा त्वचा की नियमित सफाई उसे पर्याप्त नमी और स्निम्धता प्रदान करती है। साथ-ही-साथ त्वचा को कोमल और स्वच्छ भी बनाती है। प्रतिदिन या सप्ताह में तीन दिन इसका उपयोग लाभदायक है।
  • चेहरे की सफाई के लिए साबुन के बजाय कच्चे दूध का इस्तेमाल करें यदि साबुन का ही इस्तेमाल करना हो तो ग्लिसरीन साबुन चेहरा को निखार उठेगा। त्वचा स्निग्ध और कोमल हो जाएगी।
  • रात को सोने से पहले नाखूनों पर आॅलिव आॅयल लगाकर सोने से नाखून जल्दी बढ़ते हैं।
  • आई और लिव पेन्सिल को शार्प करते वक्त वे टूटेंगी नहीं। तब उसका इस्तेमाल करें।
  • चेहरे पर चिकनेपन के लिए ‘मक्खन’ में हल्दी मिलाकर लगाएं। थोड़ी देर बाद गुनगुना पानी से धो लें।
  • अगर धुमौरियाँ हो गई हों तो मुलतानी मिट्टी में चंदन, चूरा एवं गुलाब जल मिलाकर सारे बदन पर लगा लें। थोड़ी देर बाद स्नान कर लें।
  • बालों में जब रुखापन आ जाए तो इसे भिंगो कर इससे अपने सिर के बाल धोइए। आपके बाल रेशम से चमकदार एवं मुलायम हो जाएँगे। इसके नियमित प्रयोग से सफेद बालों की समस्या भी काफी सुलझती है।
  • कुहनियां, घुटनें, पैरों के गट्ठी में कई बार मैल चढ़ जाते है तो उतरने का नाम नहीं लेता। मुलतानी मिट्टी के पेस्ट में निंबू एवं दो चार बूँदें हाइड्रोजन पर आँक्साइड मिलाएं और थोड़ी मिट्टी परत उक्त जगहों पर चढ़ा दिजिए।

प्रकृति के गोद में अपनी उपजी फलों, फूलों सब्जियों आदि के भिन्न-भिन्न इस्तेमालों से खूबसूरती का कमाल दिखाया जा सकता है।

  • अगर आँखों के नीचे काले घेरे हैं तो आलू और खीरे को कद्दु कस करके आँखों पर रखें और 10 मिनट के बाद इसे हटा दें।
  • रात को सोने से पहले पलकों को पेट्रोलियम जेली से ब्रश करें। इससे दिनभर पलकें खुबसूरत और स्वस्थ नजर आएंगी।
  • चेहरे पर ताजगी बरकरार रखने के लिए किसी अच्छी कम्पनी का टोनर से रोज फेस टोनिंग करें।
  • जैसे शरीर को ढ़कने के लिए हम कपड़े पहनते हैं। चेहरे को ढ़कने के लिए हमें सनबर्न क्रीम लगाना चाहिए। सूर्य की किरणें हमारी त्वचा को नुकसान नहीं करेंगी।
  • शहद के सेवन से रक्त की शुद्धिकरण होती है तथा शरीर निरोग और कांतिमय बनता है।
  • खीरे के टुकड़े को जैतुन के तेल में मसल कर चेहरे पर मलने से त्वचा निखरती है।
  • टमाटर, गाजर, संतरे व खीरे का रस त्वचा पर मलने से टॉनिक के समान लाभ प्राप्त होता है।

Twelve Jyotirlinga of Lord Shiva भगवान शिव के बारह ज्योतिर्लिंग

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »
Scroll to Top